भारत सरकार ने 14 फरवरी 2022 को 54 चाइनीज ऐप को भारत  में बैन किया है. इस लिस्ट में लोक प्रिय बैटल रॉयल गेम Free Fire भी शामिल  है.

लेकिन अब Battleground Mobile India खेलने वालों झटका लगने वाला है.

क्योंकि एक एनजीओ ‘प्रहार’ ने सरकार से चीनी गेमिंग ऐप BGMI-PUBG को ब्लॉक  करने और इसे 14 फरवरी, 2022 को प्रतिबंधित 54 चीनी ऐप की सूची में जोड़ने  का आग्रह किया है.

भारत सरकार द्वारा 2 सितंबर, 2020 को PUBG Mobile पर प्रतिबंध लगा दिया गया था. दस महीनों के भीतर, इसे Battleground Mobile India के रूप में फिर से लॉन्च किया गया

जिसके बाद मोबाइल प्लेयर्स BGMI-PUBG यानि Battleground Mobile India का इस्तेमाल कर रहे हैं.

बीजीएमआई उन चीनी ऐप्स में सबसे बड़ा है, जिन्होंने समान विशेषताओं के साथ  पुन: लॉन्च और रीब्रांड किया और जांच को दरकिनार करने में कामयाब रहे.

पबजी को भारत में बैन करने के बाद एक फ्रंट कंपनी- क्राफ्टन द्वारा नए नाम बीजीएमआई के तहत फिर से पेश किया गया.

पत्र में कहा गया, ‘Free Fire एक और गेमिंग ऐप था जिसे 14 फरवरी को प्रतिबंधित कर दिया गया था।

चूंकि टेनसेंट के पास फ्री फायर में 18.7 प्रतिशत हिस्सेदारी है,

यह एक बुनियादी सवाल उठाता है कि अगर फ्री फायर पर प्रतिबंध लगा दिया गया था, तो बीजीएमआई पबजी को छूट क्यों दी गई थी?’

निष्कर्ष है कि, चूंकि सरकार के पास टेनसेंट जैसी कंपनियों की गतिविधियों पर बारीकी से नजर रखने के लिए कोई तंत्र या मशीनरी नहीं है

इसलिए चीनी बीजीएमआई-पबजी जैसे ऐप्स पर प्रतिबंध लगाना देश और उसके लोगों दोनों के हित में है.

इसलिए चीनी बीजीएमआई-पबजी जैसे ऐप्स पर प्रतिबंध लगाना देश और उसके लोगों दोनों के हित में है.